सिवनी

आलोनिया एवं मढ़ई टोल प्लाजा का एक ही स्थान पर हो सकता है संचालन

  • एनएचएआई ने भेजा प्रस्ताव
    सिवनी 17 अक्टूबर 2020 (लोकवाणी)। चतुष्गामी मार्ग योजना के अंतर्गत सिवनी से जबलपुर के मध्य राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के सड़क क्रमांक-44 को यात्रियों के आवागमन हेतु पूर्ण कर लिया गया है, जहां अब नागपुर से जबलपुर की यात्रा करने वाले वाहन चालकों को बेहतर सड़क एवं सुरक्षित परिवहन व्यवस्था उपलब्ध होने लगी है, लेकिन अभी भी इस मार्ग पर लखनादौन तक जाने के लिये वाहन चालकों को दो स्थानों पर टोल टैक्स देना पड़ रहा है, जिसे लेकर अनेकों बार स्थानीय नागरिकों ने अपनी आपत्तियां दर्ज करायी थी।
    जिले से जबलपुर रोड पर स्थित बंडोल के समीप आलोनिया टोल टैक्स का संचालन कई वर्षों से हो रहा है। ज्ञातव्य हो कि बंजारी घाटी छपारा क्षेत्र में पर्यावरणीय आपत्तियों के चलते फोरलेन का कार्य पूर्ण ना होने के कारण लखनादौन में प्रवेश करने के ठीक पूर्व बनाया गया मढ़ी टोल प्लाजा संचालित नहीं होता था, परंतु बंजारी घाटी सहित जबलपुर तक शेष बचे मार्ग को फोरलेन में तब्दील करने के बाद एनएचएआई द्वारा मढ़ी में बने प्लाजा का संचालन भी आरंभ कर दिया गया है, ऐसे में आम नागरिकों को लखनादौन तक 50 किलोमीटर की यात्रा पूर्ण करने के लिये दो स्थानों पर शुल्क देना पड़ रहा है।
    उपरोक्त मामले पर जागरूक नागरिकों सहित समाज सेवी संगठनों ने अनेक बार आपत्तियां लगाकर आलोनिया टोल प्लाजा के संचालन को बंद करने का अनुरोध जिला प्रशासन सहित एनएचएआई के वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारियों से किया था। मिली जानकारी के अनुसार अब इस मामले पर राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण छिंदवाड़ा इकाई द्वारा संज्ञान लेते हुये प्रस्ताव उच्च अधिकारियों को भेजा गया, जहां उल्लेखित किया गया है कि एनएच-44 पर संचालित दोनों टोल प्लाजों को एक ही स्थान पर आरंभ रखा जाये ताकि आम नागरिकों को आर्थिक शोषण ना हो सके।
    ज्ञात रहे कि जिले से जबलपुर की ओर सफर करने के लिये अभी वर्तमान स्थिति में तीन स्थानों पर टोल प्लाजा संचालित हो रहे है, यदि एनएचएआई का प्रस्ताव वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा स्वीकार कर लिया जाता है तो जल्द ही इस मार्ग पर दो स्थानों पर वाहन चालकों व मालिकों को टोल अदा करना होगा। देखना यह है कि छिंदवाड़ा कार्यालय से भेजे गये इस प्रस्ताव पर कब तक एनएचएआई का अमला निर्णय लेता है यदि ऐसा हुआ तो इसका व्यापक प्रभाव उन वाहन चालकों व बस संचालकों पर पड़ेगा जो प्रतिदिन सिवनी से जबलपुर तक की यात्रा चौपहिया वाहनों के माध्यम से करते है।
    ये क्या कहते है
    आलोनिया एवं मढ़ी टोल प्लाजा को एक ही स्थान पर संचालित करने के लिये छिंदवाड़ा कार्यालय द्वारा प्रस्ताव भेजा गया है, व्यवहारिक रूप से 50 किलोमीटर की दूरी तय करने के लिये दो जगह शुल्क लेना अनुचित है, जल्द ही निर्णय होने के बाद नियम अनुसार कार्यवाहियां की जायेंगी।
    बी.डी. गुप्ता
    प्रोजेक्ट डायरेक्टर, एनएचएआई छिंदवाड़ा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *